CDN क्या होता है और वेबसाइट के लिए यह कैसे फायदेमंद होता है ?

0
33

CDN क्या होता है?

दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं CDN क्या होता है और वेबसाइट के लिए यह कैसे फायदेमंद होता है ? तो इस पोस्ट को अंत तक पढ़ें। जी हां दोस्तों, इस पोस्ट के अंदर हमने CDN क्या होता है और वेबसाइट के लिए यह कैसे फायदेमंद होता है ? के बारे में विस्तार से चर्चा की है अर्थात इसके बारे में विस्तार से बताया है। दोस्तों यदि तुम वेबसाइट चलाते हो अर्थात ब्लॉगर हो तो यह जानकारी तुम्हारे लिए अत्यधिक आवश्यक है क्योंकि इस जानकारी से आप को मेरा मतलब है आपकी वेबसाइट के लिए फायदा होगा। अतः आप इस जानकारी को जानें और इसका अनुसरण करें। तो चलिए दोस्तों चलते हैं इस जानकारी की तरफ और तुम्हें बताते हैं CDN क्या होता है और वेबसाइट के लिए यह कैसे फायदेमंद होता है ? के बारे में।

तुम्हें बता दूं CDN वेबसाइट की गति बढ़ाने में फायदेमंद होता है। यदि तुमने इसके बारे में पहले से सुन रखा है परंतु संपूर्ण जानकारी नहीं है तो आपके लिए यह आर्टिकल आवश्यक है जानने के लिए क्योंकि आपको इसके अंदर CDN के बारे में हर वह जानकारी मिलेगी जो जरूरी है।

CDN क्या है?

दोस्तों सबसे पहले हम जानेंगे कि CDN की फुल फॉर्म क्या है। तो दोस्तों इसकी फुल फॉर्म होती है- “Content Delivery Network”

दोस्तों यह एक ऐसी व्यवस्था होती है जो वेबसाइट के कंटेंट की कॉपी अलग-अलग लोकेशन के सर्वर पर बना देती है जिससे कि अलग-अलग लोकेशन के उपयोगकर्ता को अलग-अलग लोकेशन के सर्वर से कंटेंट डिलीवर हो जाता है और वेबसाइट की गति अच्छी तरह से बढ़ जाती है। दोस्तों इसका सबसे ज्यादा प्रयोग ब्लॉक की अपेक्षा वेबसाइट की स्पीड बढ़ाने के लिए किया जाता है।

तो दोस्तों यह तो हो गई CDN के बारे में मैन जानकारी कि यह क्या होता है.

इससे आगे हम जानेंगे यह कैसे काम करता है?

तो दोस्तों आपको बता दूं दोस्तों इस इंटरनेट के जमाने में गूगल पर जितनी भी वेबसाइट होती हैं और सभी वेबसाइट का एक डाटा एक सर्वर में स्टोर रहता है जहां से भिन्न भिन्न लोकेशन के उपयोगकर्ता को डाटा सर्व किया जाता है। आपको बता दूं और आपको यह बात ध्यान में भी रखनी चाहिए कि एक ही सर्वर से भिन्न भिन्न लोकेशन के उपयोगकर्ता को डाटा सर्वर करने से सर्वर पर लोड पड़ जाता है परंतु यदि तुम अपनी वेबसाइट में Content Delivery Network अर्थात CDN का इस्तेमाल करेंगे तो इससे तुम्हारे मुख्य सर्वर पर लोड नहीं पड़ता है और तुम्हारी वेबसाइट की गति भी अच्छी रहती है ‌।

दोस्तों इसे मैं आपको एक उदाहरण से और स्पष्ट करा देता हूं क्योंकि यदि हमें किसी बात को सही तरीके से समझना है तो उसके उदाहरण से हमें कोई बात अच्छी तरह से समझ में आती है तो इसीलिए मैं आप को समझाने के लिए एक उदाहरण देता हूं।

कल्पना कीजिए तुम्हारी एक साइट का डाटा भारत के सर्वर में स्टोर है यदि देशों से तुम्हारी वेबसाइट पर उपयोगकर्ता आएंगे तो उन तक डाटा पहुंचने में समय लगेगा और तुम्हारी वेबसाइट की लोडिंग होने का समय भी बढ़ेगा परंतु यदि तुम अपनी वेबसाइट में CDN जोड़ देते हैं. तो तुम्हारी वेबसाइट का लोडिंग टाइम नहीं बढ़ेगा फिर चाहे वह किसी भी देश में खोली गई हो। सीडीएन जोड़ने के बाद तुम्हारी वेबसाइट के कंटेंट की कॉपी अन्य देश में भी बन जाएगी।

उसी तरह जिस कंट्री से हमारी वेबसाइट पर ट्रैफिक आएगा उन सभी लोकेशन के सर्वर पर हमारे वेबसाइट की एक कॉपी बन जाएगी जिससे सभी यूजर्स के पास हमारी वेबसाइट का डाटा अति शीघ्र पहुंच जाएगा। और हमारे मुख्य सर्वर पर भी अधिक लोड नहीं पड़ेगा अर्थात हमारी वेबसाइट की स्पीड अच्छी तरह से काम करेगी।

चलो और एक और उदाहरण देकर आपको समझाता हूं-

जैसा कि हम जानते हैं। की यूट्यूब का मुख्य सर्वर अमेरिका में है और तुम इंडिया से यूट्यूब चला रहे हैं तो अमेरिका से तुम्हारे पास डाटा पहुंचने में समय लगेगा और वीडियो लोड होने में अभी समय लगेगा जिससे आप यूट्यूब वीडियो कोही प्ले न कर पाओ तो इस समस्या को हमेशा के लिए दूर करने के लिए वहां पर सी डी एन का प्रयोग किया जाता है जिससे यूट्यूब वीडियो जल्दी लोड हो जाती है और यूजर्स उसे आसानी से देख लेते हैं। तो दोस्तों यह होता है। CDN का मुख्य काम। उम्मीद करता हूं तुम्हारी अच्छी तरह से समझ में आ गया होगा।

दोस्तों अब हम जानेंगे कि इसके वेबसाइट के लिए क्या-क्या फायदे होते हैं। वैसे तो फायदा आप जान ही चुके हैं। परंतु मैं आपको थोड़ा सा और विस्तार से बता देना चाहता हूं तो चलिए दोस्तों देखते हैं इसके कौन-कौन से फायदे होते हैं।

वेबसाइट के लिए सीडीएन के लाभ –

वेब पेज की गति बढ़ाना –

तुम्हारी वेबसाइट का डाटा भिन्न भिन्न लोकेशन के सर्वर द्वारा सर्व होने के कारण तुम्हारी वेबसाइट की गति बढ़ जाती है। और ऐसे में जब कोई उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट पर आता है। और उसे ओपन करता है तो वह शीघ्र अतिशीघ्र ओपन हो जाएगी, जिससे वह आपकी वेबसाइट के कंटेंट को बड़ी आसानी से और जल्दी देख सकता है।

तो दोस्तों इस प्रकार से उसे तुम्हारी वेबसाइट जल्दी लोड होने के कारण आपका कंटेंट भी पसंद आएगा क्योंकि आपके वेबसाइट जल्दी लोड हो जाती है। और आपने देखा होगा कि जिस व्यक्ति की वेबसाइट जल्दी लोड नहीं होती है तो लोग वहां से क्विट कर जाते हैं। और अन्य किसी व्यक्ति की वेबसाइट पर जाते हैं जहां पर वेबसाइट जल्दी लोड हो। तो यदि आप सी डी एन का इस्तेमाल करेंगे तो यह तुम्हारी वेबसाइट के पेज के लोड होने की गति को बढ़ा देता है।

गूगल रैंकिंग को बढ़ाता है –

सीडीएन के द्वारा तुम्हारी वेबसाइट जल्दी से जल्दी लोड हो जाएगी तो तुम्हारी वेबसाइट पर नेगेटिव इफेक्ट भी बहुत कम पड़ते हैं और गूगल रैंकिंग में आपकी वेबसाइट काफी अच्छी तरह से रैंक का हो जाती है। क्योंकि गूगल भी चाहता है कि आपकी वेबसाइट जल्दी से जल्दी लोड हो अर्थात वह लोड होने में कम समय ले।

सर्वर क्रैश होने से बचाता है-

दोस्तों शायद आपको पता नहीं होगा तो आपको बता दूं कि जब वेबसाइट फेमस हो जाती है तब उस पर खूब सारा ट्रैफिक आता है और इस वजह से उसके क्रैश होने का भी डर अधिक रहता है तो ऐसे में यदि आप सीडीएन का इस्तेमाल करेंगे तो आपकी वेबसाइट का क्रैश होने का खतरा नहीं रहता है। इसके द्वारा तुम्हारे मुख्य सरवर में स्पीड बरकरार रहती है और वेबसाइट को लोड होने में कोई भी परेशानी नहीं आती है और वह तुम्हारी वेबसाइट के कंटेंट को भिन्न-भिन्न लोकेशन पर भिन्न-भिन्न सर्वर के द्वारा सर्व कर देती है जिससे तुम्हारी वेबसाइट के क्रैश होने का खतरा बिल्कुल समाप्त हो जाता है।

ज्यादा ट्रैफिक को हैंडल करता है –

जी हां दोस्तों जब आपकी वेबसाइट पॉपुलर हो जाती है और उस पर ट्रैफिक ज्यादा आने लगता है तब आप सी डी एन का प्रयोग अवश्य करें ताकि आपकी वेबसाइट को अच्छी तरह से हैंडल किया जा सके।

वेबसाइट को सुरक्षित रखता है –

जी हां दोस्तों की वेबसाइट भी सुरक्षित रहती है और तो और उसका हैकर्स भी कुछ नहीं बिगाड़ सकते। तो दोस्तों इस प्रकार से आप जान चुके होंगे कि सीडीएन आपकी वेबसाइट के लिए कितना फायदेमंद होता है। इसके अलावा यह आपकी वेबसाइट के बाउंस रेट को भी इंक्रीज करता है।

वेबसाइट में कौन से CDN का इस्तेमाल करें-

वैसे तो दोस्तों तुम्हें बता दूं कि इसकी कई सारी पैड सर्विस भी है और कई फ्री ऑफ कॉस्ट भी हैं। जो आपको अच्छी सुविधा प्रदान करती हैं परंतु मैंने आपके लिए कुछ पॉपुलर जिनका इस्तेमाल अधिकतर लोग करते हैं उनकी लिस्ट दी है आप चाहे तो उनमें से किसी की भी सर्विस ले सकते हैं ‌।

Cloudflare

KyCDN

MAXCDN

Amazon Cloudfront

तो दोस्तों यह चार मेरी नजर में बहुत अच्छे CDN सर्विस का काम करते हैं। और आ
पको यह पसंद भी आएंगे।

तो दोस्तों यह जानकारी यहां आकर समाप्त होती है और हम आशा करते हैं इस जानकारी से आपको जरूर कुछ सीखने को मिला होगा। यदि यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो आप कमेंट बॉक्स में बताएं या फिर आपको इससे संबंधित अन्य कोई जानकारी चाहिए तो आप हमें कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं। इस जानकारी को सोशल मीडिया के प्लेटफार्म जैसे व्हाट्सएप, टि्वटर, फेसबुक, टेलीग्राम या फिर अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर करें।

Previous articleRealme किस देश की कंपनी है और इसका मालिक कौन है ?
Next articlePaytm KYC Center कैसे खोलें और इससे पैसे कैसे कमाएं –
Hello नमस्कार 🙏दोस्तो स्वागत है आपका Jobvips.com वेबसाइट पर दोस्तों मेरा नाम SAUDAN SINGH है, और मैं धौलपुर राजस्थान का रहने वाला हूं। दोस्तों मैंने ग्रेजुएशन के साथ-साथ ब्लॉगिंग का भी कोर्स किया था और इसके अलावा मुझे ब्लॉगिंग के क्षेत्र में 3 साल से भी अधिक समय का अच्छा खासा एक्सपीरियंस है। दोस्तों "jobvips.com" वेबसाइट बनाने का मेरा मेन मकसद यही था कि मैं अपने सभी दोस्तों के साथ अच्छी-अच्छी जानकारी इस ब्लॉग के माध्यम से पहुंचा सकूं. दोस्तों इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको ब्लॉगिंग, मेक मनी, टिप्स एंड ट्रिक्स, बैंकिंग, बिजनेस आइडिया, मार्केटिंग, यूट्यूब और सोशल मीडिया से रिलेटेड आपको टाइम टू टाइम जानकारी प्रोवाइड की जाएगी। दोस्तो यदि आपको इस वेबसाइट का कंटेंट पसंद आता है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद 🙏।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here