Stock marketing क्या है और इस से पैसे कैसे कमाए ?

0
60
Stock marketing kya hai aur is paise Kaise
Stock marketing kya hai aur is paise Kaise

Stock Marketing क्या है? और इस से पैसे कैसे कमाए?

Stock marketing kya hai aur is paise Kaiseनमस्कार दोस्तों आज की इस एक और न्यू पोस्ट में आपका बहुत स्वागत है। तो साथियों आज की इस पोस्ट में हम आपको स्टॉक मार्केटिंग के बारे में बताने जा रहे हैं। और इससे जुड़ी हर प्रकार की जानकारी हम आपको देने जा रहे हैं।वैसे तू अपने इंटरनेट पर इससे संबंधित बहुत सी पोस्ट देखी होगी। लेकिन उसके बाद भी आपने संपूर्ण जानकारी अपने हाथों में नहीं ले पाई होगी।और आप उन पोस्टों को पढ़ने के बाद थोड़ी बहुत तो कन्फ्यूजन में जरूर होंगे दोस्तों अगर आप लोग शेयर मार्केट में निवेश करने की सोच रही हो। अगर आपको स्टॉक मार्केट के बारे में जानकारी होना बेहद जरूरी है। जब तक आप को स्टॉक मार्केटिंग के बारे में जानकारी मिलेगी तब तक आप शेयर मार्केट में इन्वेस्ट नहीं कर पाओगे।

बहुत से लोग तो ऐसे होते हैं। कि वह शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने से बचते हैं। और पैसे शेयर करने में भी नहीं लगाते हैं। या फिर ऐसे कह सकते हैं कि वह शेयर मार्केट में अपने पैसे लगाकर खो दिया करते हैं।साथियों स्टॉक मार्केटिंग एवं शेयर मार्केटिंग स्पेस काफी सारे नाम होते हैं। एवं अलग-अलग लोगों द्वारा यह अलग-अलग नामों से लोकप्रिय हो गया है। ” share ” यह एक अंग्रेजी भाषा का शब्द होता है। अगर हम इसके साधारण और सबसे आसान अर्थ की बात करें तो वह ” हिस्सा ” होता है। और स्टॉक मार्केट जो कि वो इसी के ” हिस्से” यानी कि ” share” वाले सिद्धांत पर कार्य करते हैं ।

और शायद आप यह जानते हो कि BSE यानी कि बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज भारत का सबसे विशाल स्टॉक मार्केट को मानते हैं। इसकी शुरुआत लगभग सन 1875 भारत के पहले स्टॉक एक्सचेंज के रूप में हुई थी। एवं भारत का दूसरा स्टॉक एक्सचेंज NSE मेरी की नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ़ इंडिया माना जाता है। और इसको सन 1992 मैं भारत के पहले डेम्युचुलाइज्ड इलेक्ट्रॉनिक स्टॉक एक्सचेंज के रूप में शुरू किया गया था। तो इसके बाद हम जानेंगे स्टॉक मार्केट के बारे में कि यह क्या है? और यह काम कैसे करेगा? सभी प्रकार की जानकारी आपको आज किस पोस्ट के अंदर मिलने वाली है। इसलिए पोस्ट में शुरू से लेकर अंत तक बने रहें।

स्टॉक मार्केटिंग क्या है?

जैसा के दोस्तों अभी अभी आप ऊपर पड़ी चुके होंगे कि लोगों द्वारा शेयर मार्केट या स्टॉक मार्केट को अलग-अलग नाम से जाना जाता है। और इसके बारे में मैं आपको ऊपर बता ही चुका हूं कि शेर का सीधा सीधा मतलब हिस्सा होता है। जिसे हम शेयर बाजार में किसी कंपनी में इससे को शेयर का नाम दे सकते हैं। उदाहरण के तौर पर मैं आपको बताऊंगा मामले को एक कंपनी ने एक लाख शेयर जारी कर दिए हैं। अब कोई व्यक्ति उस कंपनी में जितने शेयर खरीदेगा तो फिर वह उस कंपनी के अंदर उतनी ही हिस्से का मालिक भी बन जाता है।जैसे कि किसी व्यक्ति ने किसी कंपनी में 100000 में से 40000 शेयर खरीद लिया है।तो उसका ऐसा उस कंपनी के अंदर 40% हो जाता है।

वह 40% हिस्से का मालिक बन जाता है। यह स्टॉक्स जो होता है। वह किसी भी कंपनी में व्यक्ति की हिस्सेदारी को साफ-साफ दर्शाता है।और वह व्यक्ति जब चाहे अपनी सूरत अन्य दूसरे व्यक्तियों को देख पाएगा या फिर दूसरे व्यक्तियों के शेयर को खरीद भी सकता है। कंपनियों के शेयरों या स्टोक्स का मूल्य BSE मैं दर्ज किया जाता है। और सभी कंपनियों के स्टॉक्स का मूल्य कंपनी की लाभदायक क्षमता के मुताबिक घटता या फिर बढ़ता रहता है। एवं पूरे बाजार के अंदर नियंत्रण बनाए रखने का कार्य भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड एस ई बी आई के अंतर्गत करते हैं। एवं जब एस ई बी आई किसी कंपनी को आज्ञा प्रदान करती है।उसके बाद ही कोई कंपनी अपना इनिशियल पब्लिक आफरिंग जारी भी कर सकती है।एस ई बी आई की अनुमति के बिना कोई भी कंपनी IPO जारी नहीं करेगी।

स्टॉक मार्केट में कंपनी कब दिखाई देती है?

स्टॉक मार्केट में लिस्टेड होने या फिर देखने के लिए कंपनी को एक्सचेंज से लिखित रूप में कई समझौते करने पड़ जाते हैं। और इस समझौते के मुताबिक कंपनी को अपनी हर गतिविधि की सब जानकारी बाजार को समय-समय पर देनी होती है। और इन जानकारियों में कुछ ऐसी जानकारियां भी छुपी होती हैं। जिससे निवेशकों के हितों पर ऐसे पड़ता हो जो जानकारियां कंपनियों के आधार पर दिया तूने उसी से कंपनी का मूल्यांकन किया जाता है।और इस नियम के मुताबिक ही मांग कम होने या फिर बढ़ने पर इस कंपनी के शेयरों की उतार चढ़ाव भी आते रहते हैं। यदि कोई भी कंपनी लिस्ट इन समझौता किन नियमों का पालन नहीं करती है। और नियमों के लंदन की दोषी पाए जाने पर तो उसे एसएनजी से हटाने का काम करने की कार्यवाही एस ई बी आई द्वारा की जाती है।

इसको छोड़ कर यदि कंपनी भी स्टॉक मार्केट में देखने के लिए कई चीजों से गुजरती है दर्द के तौर पर पिछले 3 साल का कंपनी का पूरा रिकॉर्ड एवं कंपनी की कार मार्केट के अंदर 25 करोड़ से ऊपर का हिस्सा, IPO आवेदक कंपनी की पूरी लगभग 10 करोड़ और एफपीओ के लिए 3 करोड़ होना बेहद आवश्यक है। इन सभी चीजों के अलावा और भी ऐसी कई चीजें हैं। जिन पर ध्यान रखना पड़ता है। जब किसी भी कंपनी की लिस्ट इन करते हैं।तो किसी भी कंपनी की लिस्टिंग होने के लिए उसके बहुत ही कठिन नियमों का पालन भी करना पड़ता है।

शेयर/ स्टॉक कितने प्रकार के होते हैं ?

दोस्तों शेयर कई प्रकार के होते हैं।उन लोगों द्वारा इसे अलग-अलग नामों से भी जाना जाता है। लेकिन शेर को हम मुख्य रूप से तीन रूप में विभाजित कर सकते हैं। आइए उनके बारे में जानते हैं।

(1) कॉमन शेयर्स – इन्हें हर प्रकार के व्यक्ति खरीद सकता है और आवश्यकता होने पर उन्हें बीच भी सकता है।यह सबसे आम तरीके के शेयर माने जाते हैं।

(2) बोनस शेयर्स – और जब कोई कंपनी अच्छा मौका करने लगती है।और फिर वह अपने शेयरधारकों को उसका कुछ ऐसा देना चाह रही है। जिसके बदले में वह पैसा नहीं देना चाहती है। और यदि वह शेयर देती है। तो इसे बोनस शेयर कहा जाता है ।

(3) प्रिपेयर्ड शेयर्स – यही कैसा शेर होता है जिसे कंपनी के माध्यम से कुछ ही खास लोगों के लिए लाया करते हैं। ज्योतिषी कंपनी को पैसों की आवश्यकता होती है।और वह मार्केट से कुछ पैसा जुटाना चाह रही हो तो वह जो शेयर जारी करती है। तो वहां उन्हें खरीदने का सबसे पहला अधिकार मात्र कुछ ही लोगों को प्रदान करती है। दर्द के तौर पर किसी भी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारी को इस तरह के शेयर के लिए बहुत ही ज्यादा सुरक्षित मानते हैं।

स्टॉक्स कैसे खरीदते हैं ?

साथियों स्टॉक खरीदने से पहले आपको यह फैसला करना पड़ता है। कि आप स्वयं स्टॉप खरीदना चाहते हैं। या फिर किसी ब्रोकर की सहायता देना चाहते हैं। उसके बाद ही आप लोग आगे कदम बढ़ा सकते हैं। अगर आप ब्रोकर की मदद लेंगे तो सबसे पहले आपको अपना अकाउंट खुलवाना पड़ेगा जिसे d-mart अकाउंट बोलते हैं। जिसे आप अपने ब्रोकर के द्वारा खुलवा सकते हो और ब्रोकर के द्वारा स्टॉल खरीदने में काफी फायदा भी मिलता है। सबसे पहले तो आपको एक अच्छा मार्गदर्शन मिलता है। और फिर आपको स्टॉक मार्केटिंग की सभी प्रकार की जानकारी भी प्राप्त हो जाती है।ब्रोकर आपसे सहायता करने या पर स्टॉक की जानकारी आज के लिए वह आपसे पैसे या पर स्टॉक में मुनाफे का हिस्सा ले लिया करते हैं।

भारत के अंदर केवल 2 ही स्टॉक एक्सचेंज उपलब्ध हैं। NSE और दूसरा BSE है। और जो कंपनियां इनसे लिस्टेड होती है। सिर्फ उन्हीं में स्टॉक खरीदे या बेचे जाते हैं। और जब भी आप किसी शेयर की खरीद-फरोख्त करोगे तो उसका पैसा डायरेक्ट आपके Demat अकाउंट में ही आएगा आपका डिमैट अकाउंट आपके बैंक अकाउंट से लिंक होता है आप अपने डिमैट अकाउंट से आसानी से पैसा अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर सकते हो।

अगर आप लोग शेयर मार्केट में अपने पैसों का निवेश करना चाहते हो तब ऐसे में आप लोग डिस्काउंट ब्रोकर ” zerodha ” पर अपना अकाउंट बना सकते हो। इसके अंदर आप बहुत ही जल्दी और आसान तरीके से डिमैट अकाउंट खोल सकते हो। और उसके अंदर शेयर भी कभी सकते हो।

स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग क्या होती है?

दोस्तों ट्रेडिंग यह शब्द स्टॉक मार्केट के अंदर काफी ज्यादा पॉपुलर एवं बहुत ज्यादा इस्तेमाल में लाया जाता है। और इस शब्द का हिंदी अर्थ व्यापार माना जाता है। जब भी हम किसी वस्तु या फिर किसी सेवा को इस उद्देश्य के साथ खरीदेंगे कि उस वस्तु और सेवा को कुछ समय तक ही रखेंगे उसके बाद उसी बीच का लाभ कमाएंगे तू इस कार्य को ट्रेडिंग कहते हैं। ठीक उसी प्रकार जब कोई भी व्यक्ति स्टॉक मार्केट के अंदर कोई स्टॉक खरीदेगा तो उस व्यक्ति का मुख्य उद्देश्य होता है। कि वह उस स्टॉक के भाव ऊपर जाने के बाद वह उस स्टॉक को बेचकर लाभ कमा पाई मतलब इससे से लाभ कमाने के लिए खरीदने और बेचे जाने वाले स्टॉक की पूरी प्रक्रिया ट्रेडिंग कहलाती है।

ट्रेडिंग कितने प्रकार की होती है ?

साथियों मैसेज सेटिंग के कई प्रकार होती है। लेकिन मुख्य रूप से 3 प्रकार की ऐसी ट्रेडिंग हैं। जो कि लोगों द्वारा काफी पसंद की जाती हैं। और वह सबसे ज्यादा उपयोग भी करते हैं।

(1) इंट्राडे ट्रेडिंग : दोस्त ऐसी ट्रेड्स जिनको एक ही दिन में पूरा कर लिया जाता है। वहां इंट्राडे ट्रेडिंग कहलाते हैं। इंट्राडे ट्रेडिंग में स्टॉक को उसी दिन खरीद कर उसी दिन बेचने का काम करते हैं।

(2) scalper ट्रेडिंग: दोस्तों ऐसे ट्रेड्स क्योंकि खरीदने के बाद कुछ ही मिनट में के बाद भेज दिए जाते हैं। scalper ट्रेडिंग कहलाते हैं यानी कि इस में अक्सर 5 से लेकर 10 मिनट के अंदर ही अंदर शेयर खरीद के बाद बेच देते हैं। क्योंकि इस प्रकार के शेर में मुनाफा सबसे ज्यादा होता है। लेकिन ध्यान रहे इसमें मुनाफा तब ज्यादा होता है। जब आपके निवेश की गई रकम बहुत ज्यादा हो साथियों समय नुकसान होने के भी ज्यादा मौके पाई जाती हैं। क्योंकि जो रकम इसमें लगाई आती है।वह बहुत अधिक होती है।

(3) स्विंग ट्रेडिंग: दोस्तों के अंदर ट्रेडिंग की प्रक्रिया को कुछ ही दिनों या फिर तो एवं महीनों में पूरे कर लेते हैं। स्टॉक खरीदने के बाद निवेशक कुछ समय के लिए जैसे कि हफ्तों या फिर महीनों तक अपने पास रखते हैं।फिर इसके बाद स्टोक्स का भाव बढ़ने की प्रतीक्षा भी करते हैं। और अच्छा भाव मिलने पर उसे बेच दिया करते हैं। स्टॉक मार्केट को लोगों द्वारा एक खतरनाक खेल मानते हैं। इसमें आदमी केवल डूबता जाता है पर ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता है। यह सोच आपकी बिल्कुल गलत होती है।बल्कि इसकी अपेक्षा अगर सही तरीके एवं संयम के साथ स्टॉक मार्केट में निवेश करें तो व्यक्ति इस चीज में काफी ज्यादा मुनाफा हासिल कर सकता है।

निष्कर्ष ( conclusion )

दोस्तों आज की इस पोस्ट के अंदर आप लोगों ने जाना स्टॉक मार्केट क्या होता है।और इतने पैसे कमाने की प्रक्रिया के बारे में भी आपने जानकारी हासिल कर ली है। तो हमें उम्मीद है। हमारे द्वारा दी गई इस जानकारी से आपको काफी ज्यादा लाभ मिलेगा अगर आपको हमारी इस पोस्ट मैं कुछ भी अच्छा लगा हो तो इसे आगे तक जरूर शेयर करें साथ ही साथ अगर आपका इस पोस्ट से संबंधित कोई भी सवाल हो तो आप हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं धन्यवाद।

Previous articleTyping Karke Paise Kaise Kamaye.2022
Next articleMobile से Online पैन कार्ड कैसे बनाएं ?
Hello नमस्कार 🙏दोस्तो स्वागत है आपका Jobvips.com वेबसाइट पर दोस्तों मेरा नाम SAUDAN SINGH है, और मैं धौलपुर राजस्थान का रहने वाला हूं। दोस्तों मैंने ग्रेजुएशन के साथ-साथ ब्लॉगिंग का भी कोर्स किया था और इसके अलावा मुझे ब्लॉगिंग के क्षेत्र में 3 साल से भी अधिक समय का अच्छा खासा एक्सपीरियंस है। दोस्तों "jobvips.com" वेबसाइट बनाने का मेरा मेन मकसद यही था कि मैं अपने सभी दोस्तों के साथ अच्छी-अच्छी जानकारी इस ब्लॉग के माध्यम से पहुंचा सकूं. दोस्तों इस ब्लॉग के माध्यम से मैं आपको ब्लॉगिंग, मेक मनी, टिप्स एंड ट्रिक्स, बैंकिंग, बिजनेस आइडिया, मार्केटिंग, यूट्यूब और सोशल मीडिया से रिलेटेड आपको टाइम टू टाइम जानकारी प्रोवाइड की जाएगी। दोस्तो यदि आपको इस वेबसाइट का कंटेंट पसंद आता है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद 🙏।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here